चारा घोटाला मामले में लालू प्रसाद यादव समेत 38 दोषियों को आज सजा

चारा घोटाला मामले में लालू प्रसाद यादव समेत 38 दोषियों को आज सजा

1998 में  लालू प्रसाद यादाव् दुआरा चारा घोटाला मामले में  आज लालू यादव को सजा सुनाई जाएगी. सूत्रों के मुताबिक़ 1998 डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ रुपये की राशि अवैध रूप से निकाली गई थी । 
उस सबसे बड़े घोटाले के मामले में लालू प्रसाद यादव समेत 41 आरोपियों के भाग्य का फैसला आज कोर्ट सीबीआई कोर्ट रांची से लेगी। सूत्रों के मुताबिक़ फैसला विर्तुअली सुनाया जाएगा जिसमे जज एसके शशि कोर्ट से दोपहर 12 बजे के बाद वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी आरोपियों की सजा का ऐलान करेंगे .आरोपियों को जेल के अंदर से वर्चुअल कोर्ट में पेश किया जाएगा। लालू प्रसाद यादव को स्वास्थ्य कारणों के कारण रांची रिम्स के पेइंग वार्ड में भर्ती कराया गया है. जेल अधिकारियों ने उन्हें वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के लिए लैपटॉप भी उपलब्ध कराए हैं।
अरबों डॉलर के चारा घोटाले के पांचवें मामले में  रांची की विशेष सीबीआई अदालत सजा सुनाएगी. डोरंडा कोषागार से करीब 139.35 करोड़ रुपये की अवैध निकासी के मामले में विशेष सीबीआई न्यायाधीश एसके शशि की अदालत ने लालू प्रसाद समेत 75 आरोपियों को दोषी ठहराया है. इनमें से 34 दोषियों को 15 फरवरी को फैसले के दिन अधिकतम तीन साल की सजा सुनाई गई थी जबकि लालू प्रसाद समेत 41 दोषियों को आज सजा सुनाई जाएगी।
सूत्रों से ये भी पता लगा है की पशुपालन घोटाले के डोरंडा मामले में दोषी ठहराए गए लोगों में कई विधायक शामिल हैं । सीबीआई की विशेष अदालत ने 75 आरोपियों को दोषी ठहराया था। मंगलवार को तीन-तीन वर्षों की सज़ा साथ ही 50 हजार से दो लाख रुपए तक का जुर्माना 34 आरोपियों को लगाया गया था । । 
अदालत ने उसी दिन दोषियों को जमानत दे दी, जिन्हें तीन साल तक की सजा सुनाई गई थी। सात महिलाओं समेत 24 आरोपियों को बरी कर दिया गया था। 
सूत्रों ने ये भी बताया की सीबीआई अदालत ने आरोपी पर आईपीसी की धारा 120बी, 420, 409, 467, 468, 471, 477ए और आईपीसी की धारा 13 (2), 13 (1) के तहत आरोप लगाए हैं। सार्वजनिक धन का दुरूपयोग, भ्रष्टाचार और साजिश।, (सी) घोटाले में साजिश के लिए दोषी ठहराया गया है। इन प्रावधानों में कम से कम एक साल की कैद और अधिकतम सात साल की कैद का प्रावधान है।