जानिए अच्छा सिबिल स्कोर होना क्यों जरूरी है, अच्छे सिबिल स्कोर से मिल सकता है कम ब्याज दर पर लोन

जानिए अच्छा  सिबिल स्कोर होना क्यों जरूरी है, अच्छे सिबिल स्कोर  से मिल सकता है कम ब्याज दर पर लोन

नई दिल्ली. बैंक से लोन लेने के लिए अच्छी क्रेडिट हिस्ट्री जरूरी होता है। क्रेडिट स्कोर के आधार पर बैंक लोन ऑफर करते हैं। नुकसान को कम करने और ग्राहकों को लोन देने के साथ ही खतरे का आकलन करने में बैंक सिबिल स्कोर पर बहुत निर्भर करते हैं।

अच्छा सिबिल स्कोर मनटेन करने के लिए इन बातो का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है। अपने EMI का समय पर भुगतान करे. अपने लोन के भुगतान के लिए रिमाइंडर लगाएं, जिससे भुगतान समय पर हो सके। क्रेडिट लिमिट को नियंत्रण में रखें। जब भी लोन ले, तो लंबी अविध का लें। इससे ईएमआई का भुगतान आसानी से कर सकेंगे। एक साथ कई तरह के लोन लेने से बचें। इससे आपका क्रेडिट स्कोर बिगड़ सकता है। 

सिबिल स्कोर की गणना कई फैक्टर पर निर्भर करती है। इसमें बकाया लोन, पेमेंट हिस्ट्री, लोन खाते का प्रकार और लोन की अवधि शामिल की जाती है। जब भी फाइऩल स्कोर मिलता है, उसे मूल्यांकन के लिए संबंधित संस्थान को भेजा जाता है। हर बैंक अपने मानदंड़ों के मुताबिक तय करता है कि स्कोर अच्छा है या बुरा। इसलिए समान स्कोर पर बैंक अलग-अलग तरह से विचार करते हैं। 

लोन की स्वीकृति के लिए लोन देने वाली कंपनी को आपकी रिपेमेंट हिस्ट्री और क्रेडिट स्कोर की जरूरत होती है जो कई संस्थानों में हो सकती है। सिबिल आपका ऐसा डाटा हासिल करता है और उसे संबंधित बैंक या संस्थान को उपलब्ध कराता है। इस खास रिपोर्ट को क्रेडिट इन्फॉर्मेशन रिपोर्ट (सीआईआर) कहते हैं और इसके आधार पर ही तय होता है कि आपको लोन मिलेगा या नहीं। जब भी कोई वित्तीय संस्थान सिबिल से सीआईआर मांगता है तो नौ अंकों का एक कंट्रोल नंबर दिया जाता है। इस नंबर का इस्तेमाल संबंधित डाटा हासिल करने के लिए किया जाता है। 

आपके लोन की स्वीकृति में सिबिल स्कोर की सबसे प्रमुख भूमिका होती है और आपकी वित्तीय यात्रा के लिए यह जरूरी है। यह वे बातें हैं जो सिबिल स्कोर से प्रभावित होती हैं।

अगर आप लोन पर बेहतर ब्याज दर और शर्ते चाहते हैं, तो आपका सिबिल स्कोर अच्छा होना चाहिए। इस स्थिति में आप ब्याज पर बैंक के साथ मोलभाव करके पैसा बचा सकते हैं।

लोन प्राप्त करने के लिए आपकी पात्रता सिबिस स्कोर से ही निर्धारित होती है। अगर सिबिल स्कोर खराब है, तो लोन मिलने में काफी दिक्कर होती है। वहीं बीमा लेना चाहते हैं, तो आपको कम प्रीमियम वाली योजना मिल सकती है। 

अगर आप अपने भुगतान जिम्मेदारी से करते हैं, तो आप अच्छा सिबिल स्कोर हासिल कर सकते हैं। इससे आपकी ब्याज पर मोलभाव की क्षमता बढ़ जाती है। आप लोन के साथ ही अगर किसी संपत्ति को लीज पर लेना चाहते हैं, तो वह आपको आसानी से मिल जाती है। सीथ ही कार लोन, होम लोन जैसी सुविधाएं भी आसानी से मिल जाती हैं। 

व्यक्ति के लिए 750 का सिबिल स्कोर लोन हासिल करने के लिए आदर्श माना जाता है। आप अपने स्करो को आसानी से बेहतर कर सकते हैं। बस आपको उन फैक्टर को समझने की जरूरत है, जो आपके क्रेडिट स्कोर पर असर डालते हैं। आपको इन्हें लगातार बेहतर करते रहना चाहिए।