महिलाओं के सम्मान में एमपी के सीएम की सुरक्षा का जिम्मा महिला स्टाफ ने संभाला

महिलाओं के सम्मान में एमपी के सीएम की सुरक्षा का जिम्मा महिला स्टाफ ने संभाला

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिलाओं के प्रति सम्मान दिखाने के लिए मंगलवार को मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के वाहन सहित उनकी सुरक्षा का पूरा जिम्मा महिला सुरक्षाकर्मियों को सौंपा गया है।
सीएम चौहान ने कहा कि 700 थानों में महिला हेल्प डेस्क बनाई गई जहाँ मां, बहनें थाने आकर बिना किसी झिझक के अपनी शिकायत दर्ज  करवा सकें। चौहान के काफिले के पायलट वाहन सहित उनके वाहन चालक और सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी महिला सुरक्षाकर्मियों के हाथ में रही।  उन्होंने इस अवसर पर कहा की मां,बहन और बेटियों की सुरक्षा में हम कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। प्रदेश में 700 थानों में ऊर्जा महिला हेल्प डेस्क बनाई गई है।
आज 100 वाहन महिला पुलिसकर्मियों को दिए जा रहे हैं, जिससे कि वे सूचना मिलते ही तुरंत मौके पर पहुंचकर माताओं-बहनों की मदद कर सकें। अगले चरण में 600 वाहन उपलब्ध कराएंगे। महिला और बेटियों की सुरक्षा सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।मध्यप्रदेश देश का पहला ऐसा राज्य है  जिसने बेटियों के साथ अभद्रता करने पर सीधे फांसी के फंदे पर चढ़ाने का कानून विधानसभा में सबसे पहले बनाया था। महिला दिवस के अवसर पर स्मार्ट सिटी पार्क, भोपाल से ऊर्जा महिला हेल्प डेस्क की पुलिस कर्मियों के वाहनों को फ्लैग ऑफ किया।
 मां बहन और बेटियों की सुरक्षा में हम कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। हमारी बेटियां पूरी वीरता के साथ आगे बढ़ रही हैं।