खरसान पर रूसी सैनिकों का कब्ज़ा , फिर भी ज़ेलेन्स्की ने आत्मसमर्पण की मांग की

खरसान पर रूसी सैनिकों का कब्ज़ा , फिर भी ज़ेलेन्स्की ने आत्मसमर्पण की मांग की

रूस की ओर से कीव पर जोरदार हमला बोला जा रहा है। यहां सुबह-सुबह कई धमाकों की आवाज सुनाई दी है। इस दौरान एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि, कीव के एक अपार्टमेंट में रूस की ओर से रातभर गोलीबारी की गई। इसके बाद अपार्टमेंट में आग लग गई।रूसी हमले के बीच यूक्रेन की ओर से कहा गया है कि, उसने अब तक 2000 से ज्यादा बच्चों को युद्धग्रस्त क्षेत्र से निकाला है।अमेरिका की ओर से दावा किया गया है कि रूस ने अब तक यूक्रेन पर 900 से ज्यादा मिसाइलें दागी हैं। यह दावा अमेरिका के रक्षा विभाग के अधिकारियों की ओर से किया गया है। 
जनरल स्टाफ के अनुसार, ‘रूसी सैनिक यूक्रेन के खिलाफ युद्ध छेड़ने के लिए अपने क्षेत्र में हथियार जमा करना जारी रखे हुए हैं.’ यूक्रेन के सशस्त्र बलों के अनुसार, सीरियाई भाड़े के सैनिकों की टुकड़ियों का गठन किया जा रहा है, जो इनाम के लिए रूसी कमांडरों के आपराधिक आदेशों को पूरा करने के लिए तैयार हैं। यूक्रेन के सशस्त्र बलों के जनरल स्टाफ के अनुसार, सीरिया में भाड़े के सैनिकों के लिए भर्ती केंद्र खोले गए हैं, जहां हाल के दिनों में एक हजार से अधिक लोगों की भर्ती की गई है और लगभग 400 लोग रूस पहुंच चुके है। 
यूएनआईएएन की खबर में बताया गया है कि रूस के रोस्तोव और गोमेल क्षेत्रों में यूक्रेन की सीमा के पास उनके रहने और प्रशिक्षण के लिए शिविर लगाए गए हैं।  इस बीच यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की (Volodymyr Zelensky) ने रूसी सैनिकों को सरेंडर करने का ऑफर दिया है।  जेलेंस्की ने अपने नए वीडियो मैसेज में कहा, ‘यूक्रेनी लोगों की ओर से हम आपको जीने का मौका देते है। 
अगर आप हमारी सेना के सामने आत्मसमर्पण करते हैं, तो हम आपके साथ वैसा ही व्यवहार करेंगे जैसा इंसानों के साथ किया जाना चाहिए’।